मारवाडीयो के सात गुण जो उन्हे अमीर बनाते है

हमारे देश के मारवाडियो ने पूरे विश्व पर अपनी छाप छोड़ी है. आज की पोस्ट में पढ़ेगें मारवाडीयों के सात गुण जो उन्हे अमीर बनाते हैं. एक कहावत है कि “जहां न पहुँचे बैलगाडी, वहां पहुँचे मारवाडी.”

अगर आप किसी ऐसे घर में पहुँच जाये जहां की औरते चटनी, लड्डू, अचार बना रही है तो आप समझ जाये कि आप किसी मारवाड़ी के घर में आ गये हैं.
मारवाडी के जीवन का मूल उद्देश्य पीसो, धंधो, व्यापार, दुकान, मकान. 
पैसा, बनाओ,
पैसा बचाओ,
दान करो.

आइये जानते हैं मारवाड़ीयों के सात गुण जो उन्हे अमीर बनाते हैं.

1- Measured- पूर्णरूप से सुचिंतित

मारवाड़ी राजस्थान के मारवाड़ से आते है. राजस्थान मारवाड़ रेत का इलाका है. जहां पानी बमुश्किल मिलता है. ये पानी की Value जानते है. जहां जिस चीज की कमी होती है वो उस चीज की Value जानते है. यह स्वभाव से दयालु होते है लेकिन चीजो को समझ बूझ के साथ इस्तेमाल करते हैं. ये कंजूस नहीं होते. बस तरीका इनका बेफिजूली का नहीं होता. ये पैसो की कीमत को समझते है. फाइनेंस कैसे करना है इसके ये मास्टर होते हैं. ट्रेजरी मैनेजमेंट होते है. फंड को मैनेज अच्छे से करना जानते हैं.

मारवाडीयों की यह विशेषता होती है कि बिजनेस operation किसी को दे सकते है लेकिन Account से सम्बधित सारी जानकारी अपने पास रखते हैं. ये कहते है –
यदि हिसाब मजबूत होये, तो इज्जत पे कबउ आंच ना आवे.
एक मारवाड़ी की मिठाई की दुकान पर नौकरी लिए एक व्यक्ति आया. उसने कहां मुझे नौकरी पर रख लो. मारवाड़ी बोला,”मैं उसे अपनी दुकान पर रखता हूँ जिसे डायबटीज हो.”

2- Resourceful साधन संम्पन

आपको जानकर हैरानी होगी, जितने बड़े नाम है सब मारवाड़ी हैं. आप जानते है मारवाडी Comunity पूरे देश को dominet कर रही है. 42% billianior अरबपति भारत में मारवाडी है. हर पाँच में से दो billianior मारवाड़ी या गुजराती होते है. ये इतनी इनकम करते कैसे है ? आइयें नीचे समझते हैं.

 

मारवाडीयों के सात गुण जो उन्हे अमीर बनाते हैं

 

Readकैसे हुई Panasonic कम्पनी की शुरूआत – जानें पूरी कहानी

मारवाडियों के Income के पाँच नियम

1- High volum- low margin

कोई भी ऐसा व्यवसाय हो जिसमे ज्यादा sales हो भले ही लाभ कम हो. लेकिन माल जल्दी से जल्दी मार्केट में सप्लाई होना चाहिए.
* Daily intervention
व्यवसाय ऐसा न हो जो प्रत्येक दिन रूकावट पैदा करता हो.
* Distributorship
कोई भी अपना नाम कमाना चाहता है और जब एक बार नाम हो जाता है तो आप उस नाम से डिस्ट्रीब्यूटरशिप दे सकते हैं.
* Manufacturing plant
बजट अच्छा है और किसी फिल्ड के आप मास्टर हैं तो आप खुद की निर्माण इकाई खोल सकते हैं.

2- Rental or Property appreciation income

कोई भी ऐसी संपत्ती जिससे किराया वसूला जा सकता है या कोई प्रोपर्टी जिसकी किमत बढ़ने पर मुनाफे का काम करके दे.

3- Negociation income

सस्ते में किसी भी चीज को खरीदकर फिर उसे ज्यादा मूल्य में बेचना.

4- Intrest income

अपने पैसे को किसी जरूरत वाले को ब्याज पर पैसा देकर पैसे से पैसा पैदा करना.

5- Affiliate income

ये कही भी मदद करेगें तो थोडा उसका शेयर ले लेगें. यह अलग प्रकार की इनकम है. रिश्तेदारी पूरी निभाते है कही कोई झगड़ा नही होता.
आप पढ़ रहे हैं: मारवाडीयों के सात गुण जो उन्हे अमीर बनाते हैं

3- Ambitious- महत्वाकांक्षी

एक बार मारवाड़ी फ्लाइट की बिजनेस क्लास में सफर कर रहा था. तभी फ्लाइट की केबिन Crew ने एक ट्रे में बादाम के बिस्किट का पैकेट तथा एक मे जूस का डिब्बा दिया.
मारवाड़ी ने दोनो चीज अपने बैग में डाल ली और दूसरे बैग से एक पाउच निकाल कर मैडम को बोला,” मैडम एक कप गर्म पानी दे दीजिए.”
पास में बैठे व्यक्ति ने पूंछा,”आपने दोनो चीजे बैग में डालकर गर्म पानी का Order क्यो कर रहे हैं?
मारवाडी़- मैने एक होटल में खाना खाया वहां काॅफी का पाउच फ्री मिल रहा था. यहां गर्म पानी फ्री मिलता है. इसलिए काॅफी को पानी में मिलाकर चाय बना लूंगा.”
यदि पैसा बैंक में पड़ा है तो उसे तुरंत काम पर लगा देते हैं. फालतू का एक पैसा बैंक में नहीं रखते. पैसे से पैसा पैदा करने की आदत ही इन्हे अलग बनाती हैं.
अधिकतर कम्पनियां Operation business पर काम करती हैं. लेकिन मारवाडी कम्पनियां accounting operation पर ध्यान देती हैं.
टैक्स की प्लानिग बड़ी गहराई से करते है. टैक्स बचाने के लिए पूरी जी जान लगा देते हैं. इनके अनुसार tax आपकी सेविग फल है जिसमे सरकार bite मारकर चली जाती है.
यह रोज Tally, Accounting books, Inventry, Payable, Receivable Check करते रहते है.
मारवाडी अपने बच्चो को Accounting, cash, Rasing Bill, Bank statement, Profit & loss account, Saveing, Expensis, Balance sheet, Sales आदि की जानकारी बच्चो को बचपन से करा के चलते हैं.
ऐसे ही एक बार मारबाडी अमिताभ बच्चन के Show KBC में पहुंच गया. अमित जी ने उससे पूंछा,” आप एक करोड़ की धनराशी जीत गये हैं, क्या करियेगा ?
मारवाडी- पहले तो गिनूंगा कि पूरा मिला है कि नहीं.
यह होते है मावाड़ी “शेर के बच्चे को शिकार, मारवाडी के बच्चे को व्यापार. सिखाया नहीं जाता.”

4- Authentic प्रांमणिक

यदि कोई चीज अपनी कीमत को Justify नहीं करती तो दुनियाॅ का कितना भी बड़ा sales man आ जाये इन्हे माल नहीं बेच सकता. ये पहले Earn करते हैं तब Expese करते हैं.
यह किसी भी धंधे में इनवेस्ट करने से पहले उस धंधे की Hurdle rat of intrest निकाल लेते हैं. यदि कम बचत होती है तो यह अपने पैसे को अन्य कामों में लगा देते हैं.
Log term investment करते हैं. Compound interst value जानते हैं. Understand value of money को ध्यान में रखते हैं.
घनश्याम दास बिड़ला ने अपने बेटे बसंत कुमार बिडला 13 साल की उम्र मे बोला,”मैं तुझे पैसे नही दूंगा. तुम खुद ही खुद के खर्चे चलाओगें. उसके बाद बसंत कुमार बिड़ला ने स्टाॅक मार्केट में पैसा लगाना सीखा. पहली बार 13 साल की उम्र में स्टाॅक मार्केट से कमाया और उन्होने 14 साल की उम्र में पहली बार टैक्स दिया. 15 साल की उम्र में बिजनेस स्टार्ट किया. 18 साल की उम्र में अपनी कम्पनी को जो Loss में जा रही थी. उसे लाभ में लेकर आये.

5- Religies धार्मिक

मारवाडी इतने सरल रहते हैं कि इनके पास कितना पैसा है यह किसी को पता ही नहीं चलता. पूजा-पाठ धर्म के काम करना. दान देना इनको बचपन से सिखाया जाता है.  इनका मानना है.
Simple living high thinking,
Economic house hold,
Always vagitarian,
Limited daily wear,
Limited Travel.
एक बार मारवाडी दुबई गया. वहां एक शेख बिमार था. शेख ने मारवाडी से खून मांगा. मारवाड़ी स्वभाव से ही दानी होते हैं. मारवाडी ने शेख को दान कर दिया. शेख ठीक हो गया. शेख ने खुश होकर मारवाडी को एक कार गिफ्ट में दे दी. मारवाडी बहुत खुश हुआ. अगली बार फिर मारवाडी दुबई पहुँचा. इस बार वह शेख फिर से बिमार पड़ा हुआ था. शेख ने खून मागा मारवाडी ने दे दिया. शेख ने ठीक होकर इस बार गिफ्ट में एक मिठाई का डिब्बा दिया. मारवाडी को बहुत अजीब लगा. उसने शेख से पूंछ लिया,” पिछली बार आपने कार गिफ्ट में दी थी. इस बार आपने बहुत छोटा गिफ्ट दिया. तो शेख बोला,”पिछली बार मैनें तुम्हे गाड़ी दी लेकिन अब तो मेरे अदंर तुम्हारा ही खून दौड़ रहा है.

Read : Rich Dad Poor Dad Book Review in Hindi

6- Wisdom बुद्धिमता

एक बार न्यूज पेपर वाले को मारवाडी ने बोला- एक एड डालनी है मेरे चाचा गुजर गये.
न्यूज पेपर वाले ने बोला – एड तो में डाल दूंगा. लेकिन पचास रूपये प्रति वर्ड लगेगा.
मारवाड़ी थोड़ी देर सोचते हुए बोला- ठीक है ! लिख दो चाचा जी गुजर गये.
एड वाला बोला- तीन शब्द अच्छे नहीं होते. कम से कम 6 Word तो लिखवायें.
मारवाड़ी सोचने लगा, थोड़ी देर सोचने के बाद बोला- ठीक है! लिख दो, “चाचा गुजर गये, मारूती फाॅर सेल.”
मारवाडीयों के भारत में स्टार्टअप
मारवाड़ी भाईयो के स्टार्टअप
इनके ऊपर चुटकुले तो बहुत बने लेकिन ये Cheap miser नहीं हैं. ये Opportunity को हाथ से जाने नहीं देते.
ऐसे ही एक बार ट्रेन में चाइनीज यात्रा कर रहा था. उस चाइनीज ने मक्खी देखी और पकड़कर खा गया. वहा पास में बैठा एक मारवाडी यह सब देख रहा था.
अचानक उसने भी एक मक्खी पकड़ ली. तभी वहां बैठे दूसरे व्यक्ति ने पूंछ लिया,”क्या तुम भी खाओगे ?मारवाड़ी ने जवाब दिया. नहीं जी! मैं चाइनिज को मक्खी मारकर बेचूंगा.
जेखिम लेने से नहीं ड़रते Opportunity scaner होते हैं. ये पढ़ाई तो कोई सी भी कर लेगें. लेकिन अपना बिजनेस ही चलायेगें. खुद का धंधा करेगें. ये नौकरी करना पसंद नहीं करते. बचपन से ही खुद का बिजनेस करने के लिए प्रेरित किया जाता है.
मारवाड़ी कभी अपने Customer को चाय पिलाने में Hesitation नहीं करते. यदि इन्हे पता हो कि इस ग्राहक से हमें फायदा होने वाला है. ये इस बात का भी ध्यान रखते है कि चाय काॅफी फाइव स्टार होटल की नहीं होनी चाहिए.

7- Industrious मेहनती

एक बार 1978 में कोलकता में बनर्जी फेमली रहती थी. उनकी कम्पनी का नाम Himani ltd था. कुछ समय बाद कम्पनी को घाटा लग गया. दो दोस्त थे एक राधेश्याम अग्रवाल, दूसरे राधेश्याम. दोनो उसी कम्पनी में नौकरी करते थे. दोनो ने सोचा कम्पनी बिकने पर आ गई. दोनो ने नौकरी छोड़ी और Himani कम्पनी घाटे में थी फिर भी खरीद ली और दोनो ने मिलकर खूब मेहनत की और आज उस कम्पनी का नाम Emami हो गया. आज पूरी दुनियाॅ इनको जानती है. आज पूरी दुनियाॅ में इनका माल बिकता है.
Vision- growth
Luxury – Expense
Expense – Investment
सभी मारवाडी जुड़कर रहते हैं. किसी भी प्रोग्राम को मिस नहीं करते. ये अपने व्यवसाय  को बढ़ाने के लिए दिन रात मेहनत करते हैं. इनका कोई भी धंधा हो पूरा परिवार एक साथ जुटा रहता है.
उम्मीद करता हूँ दोस्तो आपको हमारी पोस्ट मारवाडीयों के सात गुण जो उन्हे अमीर बनाते है पंसद आई होगी. यदि आपके पास भी कोई प्रेरणादायक कोई कहानी, लेख, कविता है जो लोगो तक पहुँचाना चाहते हैं तो आप हमें Merajazbaamail@gmail.Com पर मेल कर सकते हैं.

Leave a comment

Your email address will not be published.