कोरोना वायरस पर प्रेरक कथन 

दोस्तो ‘कोरोना‘ वायरस की वजह से पूरा विश्व Lock down के लिए विवश हैं. इसके बावजूद ऐसी बहुत सी चीजें हैं जो Lock down से परे हैं जो कि हमारे लिए बेहद ही उपयोगी हैं.

तो आइयें जानते हैं कि ऐसी वो कौन सी जरूरी चीजें हैं जिनके बारे में हमें पता होना चाहिए ?
* सूरज रोज अपने समय पर उदय एवं अस्त हो रहा हैं.
* हवाएं आज भी बह रही हैं और पहले से ज्यादा स्वच्छ होकर बह रहीं हैं.
* नदियों का पानी उजला होकर बह रहा हैं.
* आज भी हमारी भावनाएं व संवेदनाएं किसी Lock down की मौहताज नहीं.
* पढ़ाई के लिए Lock down कोढ़ नहीं हो सकता.
* Lock down बाहर के लिए हैं आपके परिवार में नहीं. Spend time with your family.
* आपकी दयालुता जगत के सभी जीवों पर आज भी हैं.
* Creativity दुनियाँ के किसी कौने में कैद नहीं की जा सकती.
* Lock down आपको ‘सीखने’ से नहीं रोक सकता.
* Conversation ( बात-चीत ) आपके सम्बधों को मधुर बनाने के लिए हैं. इसे जारी रखियें.
* Lock down आपकी कल्पना ( Imagination ) की शक्ति को नहीं रोक सकता.
* Relationship ( रिश्तों ) के लिए Lock down सिर्फ नया Task हैं. इन्हें बेहतर बनाइयें.
* प्रार्थना कीजिए उन लोगो के लिए जो इस Lock down में भी हमारे लिए ड्यूटी पर हैं.
* सुबह- शाम Meditation  ( ध्यान ) कीजिए.
* आप दुसरो के लिए दुआएं कर सकते हैं. दुआएं किसी भी Lock down को भेद सकने में सक्षम होती हैं.
* हमारे देश में बहुत सारी समस्याएं हैं लेकिन आपका विचार समाधान का सबसे बड़ा शस्त्र हो सकता हैं.
* क्या आप कोई साहयता कर सकते हैं ? नहीं, कोई बात नहीं ! यदि आप घर पर ही रहें तो भी आप देश की साहयता में अपना योगदान दे रहें हैं.
* पंक्षी भी ‘कभी खुशी कभी गम’ वाली Feeling महसूस कर रहें हैं.
* किसान को कैसे भूल सकता हूँ. ‘अन्नदाता’ क्योकि “यह कभी नहीं थमता, कुछ भी हो जाये ये नहीं थकता.” Farmer is the greatest corona warrior for me.
* उम्मीदे लगती तो बेबस सी हैं पर पक्की हो तो मंजिल पा के ही मानती हैं. और ये आज भी कायम हैं.
Corona Quotes in Hindi
हमें उम्मीद हैं कि आपको हमारे Corona lock down Quotes जरूर पसंद आयें होगें. यदि आपके पास भी इसी प्रकार के कोई Quotes हैं तो हमें जरूर भेजें. हम आपके नाम के साथ इन Quotes में जोड़ेगें.
धन्यवाद 🙂

Join the Conversation

2 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published.